Self Confidence In Hindi Essay On Paropkar

Essay on Self Confidence in Hindi

आत्मविश्वास का अर्थ होता है के आप जो भी कार्य करते हैं उस पर भय का कोई नियंत्रण नहीं होता जब आप डर के आगे हथियार डाल देते हैं तो आपके आत्मविश्वास पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। अच्छी तरह कार्य करने से आत्मविश्वास का संचार होता है। जिस चीज़ से आपको डर लगता है यदि आप उसी चीज़ का सामना बहादुरी और बिना किसी भय से करें तो वह आपके आत्मविश्वास को बढ़ाने में आपकी मदद करेगा। इसीलिए जिस भी चीज़ से आपको डर लगे उसका सामना जरूर करना चाहिए क्योंकि डर को टालने की प्रवृति आपके आत्मविश्वास को कम कर सकती है।

आत्मविश्वास (Self Confidence) में वह अद्भुत शक्ति होती है के जिससे मानव हजारों मुसीबतों का सामना अकेला कर सकता है। महान कार्यों को करने के लिए आत्मविश्वास सबसे एहम होता है आत्मविश्वास इंसान को काम करने की शक्ति प्रदान करता है। आत्मविश्वास की कमी वाला इंसान नकाराताम्क सोच वाला बन जाता है आत्मविश्वास पैदा करने के लिए सबसे जरूरी होता है के हमें स्वयं के महत्व को जानना चाहिए कोई इंसान जन्म से ही आत्मविश्वास लेकर नहीं पैदा होता हमारा स्वयं का व्यक्तित्व , मन मस्तिष्क व् जीवन को प्रभावित करने वाले कारक ही हमारे आत्मविश्वास को घटाने और बढाने का काम करते हैं।

आत्मविश्वास (Self Confidence) का प्रभाव केवल मानव जाति पर ही नहीं देखा जा सकता बल्कि पशुओं पर भी इसका प्रभाव पड़ता है दौड़ में अव्वल आने वाले घोड़े की अगर पीठ ना थपथपाई जाए तो वह भी आत्मविश्वास खो देता है और अगली दौड़ में उसकी चाल धीमी पड़ जाती है। आत्मविश्वास की शक्ति मुश्किलों के समय आपको सुख का आभास करवाती है। इसके विपरीत उत्साह की कमी और कमज़ोर इच्छा शक्ति आप के आत्मविश्वास पर बुरा असर डालती है इसीलिए इनसे दूर ही रहें।

आत्मविश्वास का धनी इंसान समय पर पके हुए फलों को खाता है और उनके बीज से पुन: फ़ल उत्पन करता है। इस संसार में जो इंसान आत्मविश्वास खो बैठता है वह वहीँ का वहीँ रह जाता है सफलता उससे कोसों दूर भागती है। अपने आत्मविश्वास के बल पर ही शिवा जी ने अपने कुछ मराठों सेनिकों के साथ औरंगजेब की सेना को भागने के लिए मजबूर कर दिया था। आत्मविश्वास तो बड़े -बड़े पहाड़ों को हिला देने वाली शक्ति का नाम है जिसके मन में आत्मविश्वास भरा हो उसके सारे सपने और इच्छाएं सम्पूर्ण हो जाती है। इसीलिए असफलता मिलने पर भी अपना आत्मविश्वास नहीं खोना चाहिए इसे अपने मन में बनाये रखें देखना एक दिन आप जरूर सफल होंगे।

आत्मविश्वास से जुडी एक सच्ची कहानी बिहार के दशरथ मांझी की है जिन्हें आज संसारभर में माउंटेन मैन के नाम से भी जाना जाता है जिसने आत्मविश्वास के बलबूते पर ही लोगों की परवाह ना करते हुए अकेले ही 22 वर्ष तक पहाड़ में रास्ता बनाने का कार्य किया और अंत कड़ी मेहनत से उन्होंने एक बड़े पहाड़ के बीच 30 फीट चौड़ा रास्ता बना दिया किसी दिन दशरथ मांझी का मजाक बनाने वाले गाँव के किसी भी आदमी में इतनी हिम्मत नहीं थी के लोक कल्याण से भरे इस असंभव कार्य को संभव करने के बारे में सोच भी सके। दशरथ मांझी ने अपने आत्मविश्वास के बल पर ही इतने बड़े पहाड़ को खोदकर रास्ता बना दिया जिसकी सराहना आज सारी दुनिया करती है।

(Visited 3,886 times, 17 visits today)

Filed Under: Hindi Essay

- Хейл вздохнул и повернулся к своему компьютеру. В этом вся ее сущность. Блестящий криптограф - и давнишнее разочарование Хейла. Он часто представлял, как занимается с ней сексом: прижимает ее к овальной поверхности ТРАНСТЕКСТА и берет прямо там, на теплом кафеле черного пола.

0 thoughts on “Self Confidence In Hindi Essay On Paropkar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *